high blood pressure ka desi ilaj in hindi

Introduction
हाई ब्लड प्रेशर (हाई बी पी) एक ऐसी समस्या है, जो कि आजकल काफी आम हो गयी है। साथ ही यह किसी भी आयु वर्ग के व्यक्ति को हो सकती है, लेकिन इसका इलाज संभव है, यदि समय पर इसका इलाज कर लिया जाए तो इसे कंट्रोल किया जा सकता है, वरना ये आगे चलकर और भी गम्भीर समस्या का रूप धारण कर लेती है। हर साल 17  मई को World high blood pressure Day मनाया जाता है।आज इस पोस्ट में हम आपको high blood pressure ka desi ilaj in hindi के बारे में ही विस्तार से बताने का प्रयास करेंगे।

high blood pressure ka desi ilaj
हाई ब्लड प्रेशर क्या होता है (What is high blood pressure)

ब्लड प्रेशर जिसे हाइपरटेंशन के नाम से भी जाना जाता है, इसमें धमनियों में ब्लड का दबाव काफी बढ़ जाता है। ब्लड प्रेशर बढ़ने की वजह से दिल से सम्बंधित विभिन्न प्रकार की बीमारियां भी जन्म लेती हैं। एक आम इंसान का ब्लड प्रेशर 110/80 या 120/80 तक होता है, जब ब्लड प्रेशर 140/90 तक पहुंच जाता है, तो इसे हाइपर टेंशन के नाम से जाना जाता है। एवं जब ब्लड प्रेशर 180/120 तक पहुँच जाता है, तो यह स्थिति काफी खतरनाक साबित हो सकती है। कई बार ऐसा भी होता है, कि मरीज़ को पता ही नही होता, कि वह हाई BP या हाइपर टेंशन पेशेंट है।

ब्लड प्रेशर हाई क्यो हो जाता है (Reasons of high blood pressure)

हर बीमारी के होने के पीछे कुछ न कुछ वजह होती ही है, यदि आप इनके लिए जागरूक रहे तो आप इन बीमारियों का इलाज समय रहते कर पाने में सक्षम होंगे। वैसी ही हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी भी कई तरह के कारणों से होती है यदि आप इन कारणों को पहचान गए तो समय रहते आप भी हाई ब्लड प्रेशर जैसी गंभीर और खतरनाक बीमारी का हल कर पाएंगे -
● मोटापा या शरीर का अधिक वजन होना हाई ब्लड प्रेशर का कारण बन सकता है। शरीर के मोटे होने के वजह से हमारे रक्त वाहिनियों पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है जिसके कारण ब्लड प्रेशर उच्च होने लगता है।
● शारीरक रूप से कम क्रियाशील होने के कारण हमारे हृदय की धड़कन की दर बढ़ जाती है। यह दर जितनी अधिक रहेगी हमारा हृदय रक्त को धमनियों में उतनी अधिक प्रेशर के साथ पम्प करने लगेगा। इस कारण ब्लड प्रेशर के उच्च होने की संभावना बढ़ जाती है।
● एक उम्र के बाद से पुरुषों एवं महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है। पुरुषों में 45 की उम्र एवं महिलाओं में 65 वर्ष की उम्र में यह समस्या आम हो जाती है।
● अनुवांशिक कारणों से भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती हैं।
● धूम्रपान की वजह से भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती हैं। आजकल धूम्रपान लोगो का शौक बन गया है। सिगरेट, तम्बाकू इत्यादि का सेवन आजकल न केवल बड़े बल्कि युवा और बच्चें भी करने लगे हैं जिसकी वजह से कम उम्र के लोगो मे भी उच्च रक्तचाप की शिकायत आम हो गयी है।
● शराब का अत्यधिक सेवन करना भी हाई ब्लड प्रेशर की वजह बन सकता है। दिन में दो बार या उससे अधिक शराब का सेवन करना आपके स्वास्थ्य में कई तरह के बीमारियों को शामिल कर सकता है जिनमे हाई ब्लड प्रेशर भी होता है।
● खाने में ज्यादा नमक या सोडियम का इस्तेमाल करना भी हाई ब्लड प्रेशर को निमंत्रण देना है। इसलिए नमक उतना ही इस्तेमाल करें जितनी जरूरत हो, बेहतर होगा कि आप खाने में ऊपर से नमक नही मिलाये।
● हर व्यक्ति के जीवन मे कुछ न कुछ समस्याएं अवश्य होती है,जिनकी वजह से वह व्यक्ति तनाव या डिप्रेशन का शिकार हो जाते है। जो कि आगे चलकर हाई ब्लड प्रेशर की वजह बनता है।
● गर्भवती महिलाओं को भी ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है। जो कि खानपान के अनियमितता के कारण हो सकती है।

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण क्या है (Symptoms of High Blood pressure)

बीमारी चाहे कोई भी हो, अचानक से नहीं आ जाती है। कुछ समय पहले से उसके लक्षण नज़र आने लगते हैं, यदि उन लक्षणों पर ध्यान देकर समय रहते इलाज करा लिया जाए तो बीमारी पर नियंत्रण किया जा सकता है। इसी प्रकार हाई बी पी के भी कुछ लक्षण होते हैं, जिन्हें ध्यान देकर एवं समय रहते इलाज करके इस समस्या से सुरक्षित रहा जा सकता है। आइये जानते हैं, उन लक्षणों के बारे में जो कि निम्नलिखित हैं -
● काम करते करते थकावट हर व्यक्ति को हो जाती है, एवं आराम करने की ज़रूरत महसूस होती है, किन्तु यदि यह थकान कुछ अधिक बढ़ जाए, तो आपको इसे नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह हाई बी पी का संकेत हो सकता है।
● सांस लेने में कभी कभी कम ज्यादा हो जाये तो वैसे तो यह आम बात होती है किंतु यदि आपको बार बार इस प्रकार की समस्या हो, जब अचानक से सांस लेने में तकलीफ हो जाए तो बेहतर है कि आप अपना ब्लड प्रेशर जांच करवा लें क्योंकि यह उच्च रक्तचाप का लक्षण हो सकता है।
● थकान या तनाव की वजह से अक्सर लोगो को सिर दर्द की समस्या हो जाती है, किंतु यदि यह समस्या लगातार बनी रहे और दवाइयों के सेवन से भी आराम न मिले तो इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्योकि यह हाई ब्लड प्रेशर के कारण भी हो सकता है।
● यदि आपको अचानक से कभी सीने में दर्द की शिकायत हो तो कई बार यह समझ जाता है कि यह समस्या पेट मे गैस बनने के कारण हो सकती है लेकिन यह दर्द अत्यधिक हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।
● कई बार ऐसा होता है कि अचानक से आंखों में धुंधलापन आने लगता है यदि आप अपने आँख की जांच कर चुके है और फिर भी इस समस्या से निजात नही मिल रही है तो यह हाई ब्लड प्रेशर के संकेत हो सकते है।
इन लक्षणों के अलावा अन्य भी लक्षण है जो आपको हाई ब्लड प्रेशर के संकेतों की ओर इशारा कर सकते है। यदि उपरोक्त लक्षण से आप उच्च रक्तचाप की पहचान नही कर पा रहे है तो ये लक्षण उच्च रक्तचाप को पहचानने में आपकी मदद कर सकते है-
● उल्टी
● कानों के बजना
● नींद में कमी या नींद नही आना
● जनन क्षमता में कमी आना
● नाक से खून बहना

हाई ब्लड प्रेशर का देशी इलाज (high blood pressure ka desi ilaj in hindi)

• ग्रीन टी- ग्रीन टी का प्रयोग ब्लड प्रेशर को नॉर्मल करने के लिए किया जाता है। जापानी लोग ग्रीन टी का नियमित रूप से प्रयोग करते हैं। यही वजह है, कि वे हाई ब्लड प्रेशर एवं हार्ट सम्बन्धी समस्याओं से सुरक्षित रहते हैं, जबकि वे काफी मात्रा में नमक का सेवन करते हैं।
• अदरक- अदरक का नियमित रूप से उपयोग में लाना भी ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में सहायक होता है। अदरक के तेल का प्रयोग ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने के लिए किया जाता है। यदि आप अदरक के तेल को प्रयोग में नहीं ला सकते तो भी किसी न किसी रूप में रोज़ाना अदरक को खाएं। लेकिन ध्यान रखें कि अदरक फ्रेश एवं सूखी हो।
• प्याज़- प्याज़ न सिर्फ खाने के स्वाद को बढ़ाती है, बल्कि विभिन्न प्रकार की बीमारियों को दूर करने में भी सहायक होती है। इसका नियमित रुप से प्रयोग ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है। यह शरीर के कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी संतुलित रखता है।
• दालचीनी- दालचीनी एक प्रकार का गरम मसाला है, जिसका प्रयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है। दालचीनी को प्रतिदिन अपने खाने में शामिल कर लें। इसे आप अपनी इच्छानुसार प्रयोग में ला सकते है, चाय बनाकर या फिर खाने में किसी प्रकार डालकर।
• इलायची- इलायची भी दालचीनी की तरह एक प्रकार का गरम मसाला है, जो कि अपनी एक विशेष प्रकार की सुगंध के लिए प्रसिद्ध है, इसका प्रयोग नमकीन एवं मीठी दोनों प्रकार की डिश में किया जाता है। यदि आप प्रतिदिन 2.5 ग्राम इलायची अपने भोजन में शामिल कर लें, तो यह कुछ ही दिनों में आपके ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मददगार साबित होगा। इसे आप अपनी इच्छानुसार सूप, नमकीन, मीठे किसी भी प्रकार के व्यंजन में उपयोग में ला सकते हैं।
• अलसी के बीज- प्रतिदिन अलसी के बीज का 30-40 ग्राम सेवन करना हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में बहुत लाभदायक होता है।

●हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाना चाहिए (high blood pressure me kya khana chahiye):-

यदि आप हाई ब्लड प्रेशर से परेशान है और तरह तरह के उपाय करके, गोली दवाई खा के थक चुके है तो आपको अपना तरीका बदलना होगा, अर्थात आपको अपने खानपान में बदलाव करने की आवश्यकता हैं। इस पैराग्राफ में हम आपको संतुलित खानपान की एक ऐसी लिस्ट देंगे जिसके रेगुलर उपयोग से आप आने उच्च रक्तचाप में स्थिरता और धीरे धीरे इसमे गिरावट भी देखने लगेंगे। चलिए देखते है byebye Bimari में आज आपके लिए आवश्यक और स्वास्थ्यवर्धक आहार सूची को जिन्हें ग्रहण करके आप आने हाई बीपी को कुछ हद तक नियंत्रित करने में कामयाब भी हो पाएंगे-
1. हरे पत्तेदार सब्जियां
2. स्ट्रॉबेरी
3. पिस्ता
4. अनार
5.ओटमील
6. दही
7. ऑलिव ऑइल
8. लहसुन
9. केला
10. नारियल

●हाई ब्लड प्रेशर में क्या नहीं खाना चाहिए (high blood pressure me kya nahi khana Chahiye):-

यदि आप बार बार हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हो रहे है तो आपको अच्छे डाइट को अपनाने के साथ साथ किन खाने पीने की चीज़ों का इस्तेमाल नही करना है यह जानना भी बेहद जरूरी है। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या का एक प्रमुख कारण खानपान का अनियमित होना रहता है। ऐसे में हम आपके लिए यहां एक ऐसी सूची तैयार करके रखे है जिन खाद्य पदार्थों को लेने से आपको बचना है। निश्चित ही यह सूची आपको ब्लड प्रेशर नियंत्रित करने में सहयोग करेगी।
1. नमक युक्त भोजन
2. डिब्बा बन्द खाद्य पदार्थ
3. अल्कोहल
4. आचार
5. कोल्ड/ फ्रोजेन खाद्य पदार्थ
6. फ़ास्ट फूड्स
7. डिब्बा बन्द टमाटर सॉस
8. रिफाइंड शुगर
9. डेली मीट / मुलायम स्किनी मांस
10. मार्जरीन / नकली मक्खन

Conclusion

हाई ब्लड प्रेशर के बारे में जुड़ी हर बात को हमने बताने का प्रयास किया। उम्मीद करते है कि high blood pressure ka desi ilaj in hindi के आपके सवाल का आपको जवाब मिल गया होगा। किसी भी तरह के इलाज को अपनाने के पूर्व अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ले लेवें क्योंकि आपका स्वास्थ्य हमारे लिए सर्वोपरी है। आप स्वस्थ्य रहेंगे तभी तो कहेंगे byebyebimari

●और पढें :- डायबिटीज में क्या नही खाना है, जानने के लिए यह पोस्ट देखिए।

●और पढें :- मुलेठी के इन आश्चर्यजनक फायदों से लोग उठा रहे है लाभ,आप भी देखें।

●और पढें :- आखिर किन फायदों के कारण केसर है महंगा, जानिए इस पोस्ट में।

●और पढें :- लूज़ मोशन से सुस्त हो चुके हो तो अपनाओ यह देशी नुस्खा।

●और पढें :- स्वस्थ और तंदुरुस्त रहने के लिए इन हेल्थ टिप्स को देखें, गारन्टी के साथ मिलेगा फायदा।



Post a Comment

नया पेज पुराने