Hempushpa tonic in hindi :-

 हेमपुष्पा टॉनिक एक आयुर्वेदिक हर्बल सिरप है जो 90 वर्षो से भी पुरानी आयुर्वेदिक दवा कम्पनी राजवैद्य शीतल प्रसाद एंड संस के द्वारा संचालित होती है।इस टॉनिक के आयुर्वेदिक तत्व इसकी उपयोगिता को सर्वगुणसम्पन्न बना देते है जिसके बारे में नीचे विस्तार से बताया जाएगा।Hempushpa tonic benefits in hindi aur hempushpa tonic uses in hindi के इस पोस्ट में आपको हेमपुष्पा टॉनिक से जुड़ी हर बात को बताने का प्रयास किया जाएगा।


Hempushpa tonic benefits in hindi aur hempushpa tonic uses in hindi

Hempushpa tonic composition | हेमपुष्पा टॉनिक में क्या क्या मिला होता है :-

इस टॉनिक में कई सारे जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया गया है जिस कारण यह स्वास्थ्यवर्धक होती है।इसके कंपोनेंट निम्न है:-

  • सतावरी
  • नागरमोथा
  • गंभरी
  • दरिहल्दी
  • ढाईफूल
  • बाख
  • अश्वगंधा
  • पुनर्नवा
  • मूसली
  • शंखपुष्पी
  • गोखरू
  • बाला
  • अनंतमूल
  • मंजिष्ठा
  • लोध्र

यह भी पढ़ें:-घर मे मौजूद प्राकृतिक औषधियाँ जो बहुत फायदेमंद होती है।

इसे इस्तेमाल करने से पूर्व आप इसके पैकेट में डिस्क्रिप्शन को अवश्य पढ़ें।फिर भी इसे इस्तेमाल करने का जो तरीका बताया गया है वह हम आपको बता रहे है।इसे दिन में 2 बार 7-7 ml करके लें।इस तरह आप एक दिन में इसके 14ml की खुराक लेंगे।इसके अलावा आप यह भी ध्यान रखेंगे की आप इसे खाली पेट न लें।रात को खाने के बाद व सुबह नाश्ते के बाद आप इसे ले सकते है।

Hempushpa tonic ke fayde in hindi|हेमपुष्पा टॉनिक के फायदे हिंदी में:-

हेमपुष्पा टॉनिक में मौजूद आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां इसकी उपयोगिता को कई गुना बढ़ा देती है।यदि आपको किसी तरह की कोई बीमारी नही है तो भी आप इसे ले सकते है।शारीरिक कमजोरी,शरीर का पतला डूबना होना,शरीर का ऊर्जाहीन होना आदि समस्या होने पर आप इसे ले सकते है इसके अलावा सामान्यतः यह महिलाओं के द्वारा मासिक धर्म से जुड़े समस्या के लिए भी उपयोग किया जाता है।इसके अन्य फायदे इस प्रकार से है :-

  1. शरीर का वजन बढ़ाने में सहायक :- खाने पीने में कमी अथवा शरीर के ज्यादा पतलापन होने के वजह से शरीर आकर्षक नही दिखता और हीनता की भावना मन मे बैठ जाती है।हेमपुष्पा के लगातार सेवन से आप ऊंचाई और वजन दोनों में वृद्धि कर सकती है।
  2. हार्मोनल इम्बैलेंस को ठीक करने में :- हार्मोनल ऊंच नीच का सामना हर महिला को अपने जीवन मे करना पड़ता है।जिस कारण चेहरे में मुंहासे, त्वचा में अनावश्यक बाल आना,मूंछ आना,संवेदनशीलता में उतार चढ़ाव, टेंसन, डिप्रेशन, काम इच्छा में कमी आने जैसे कई सारे परेशानियों का सामना करना पड़ता है।इसमें मौजूद जड़ी बूटियां हार्मोन्स को संतुलित करती है और मानसिक रूप से शांत करती है।
  3. गर्भावस्था में सहायक:- हेमपुष्पा टॉनिक गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है और इसके उपयोग से गर्भावस्था में होने वाले समस्याओं जैसे कब्ज़, कमजोरी,जोड़ो में दर्द,मूड स्विंग,कमजोर पाचन आदि से जूझना पड़ जाता है।ऐसे में यह टॉनिक महिलाओं को इस समस्या का हल निकालने में सहायक सिद्ध होती है।
  4. मासिक धर्म की अनियमितता को सुधारने में:- मासिक धर्म के समय मे अनियमितता महिलाओं को सबसे आम समस्या होती है।समय से पहले अथवा समय के बाद पीरियड का आना असामयिक दर्द को अपने साथ लेकर आता है।इस टॉनिक के रेगुलर उपयोग से आप अपने मासिक धर्म को संतुलित कर सकते है।
  5. यूरिन इंफेक्शन को ठीक करने में:- हमारे शरीर की हर क्रियाकलापों का तत्काल असर हमारे यूरिन पर दिख जाता है।मूत्र के रंग में परिवर्तन हमे बीमारियों की ओर इशारा करता है।पेशाब का रंग गाढ़ा होना,पेशाब करने वक्त जलन होना,इसके अलावा कभी कभी खून आना भी इंफेक्शन की ओर इशारा होता है।हेमपुष्पा की टॉनिक इस परेशानी से भी बाहर निकलने में मदद करती है।

यह भी पढ़ें:- यूरिन इंफेक्शन क्या है?पूरी जानकारी के लिए क्लिक करें।

आवश्यक निर्देश :-

 हेमपुष्पा टॉनिक को घर मे सुरक्षित रखने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश इसके पैकेट के साइड की ओर लिखा हुआ रहता हैं । घर मे इसे रखते वक्त ध्यान दे कि इसकी शीशी किसी गर्म जगह के पास नही रखी हो साथ ही वह जगह सूखा और कम प्रकाश वाला हो।इसके अलावा आप इस सीधे सूर्य प्रकाश में रखने से बचें।घर मे यदि छोटे बच्चे हो तो इस टॉनिक को उनके पहुच व नजरो से दूर रखें

hempushpa tonic benefits in hindi
hempushpa tonic uses in hindi के इस पोस्ट के द्वारा हमने आपको इस टॉनिक के बारे में बताने का प्रयास किया।उम्मीद करते है कि आपको अपने सवाल का जवाब मिल गया है।यदि आपके मन मे किसी तरह का अन्य सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कह सकते है 

Post a Comment

नया पेज पुराने